Ads

Responsive Ads Here

कविताएँ और कहानीयां


1.  कहानियाँ 

2.  कवितायेँ





किस चीज़ का इंतज़ार है,और कब तक?
दुनिया को
तुम्हारी जरुरत है! 
                        
                    -बेर्टोल्ट ब्रेख्त

No comments:

Post a Comment